विकास यात्रा के नाम पर गरीबों का सर्वनाश करने पर तुली है नीतीश सरकार : जाप(लो)

 

pappu yadav

पटना: जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के प्रधान महासचिव एजाज अहमद व प्रदेश प्रवक्ता श्याम सुंदर ने अपने संयुक्त वकत्वय में कहा कि नीतीश सरकार बिहार में विकास यात्रा के नाम पर गरीबों का सर्वनाश करने पर तूली है, जिसका मिशाल है बक्सर जिले का नंदन गांव। जहां गरीबों, पिछड़ों, अतिपिछड़ों, दलितों व महादलितों पर पुलिसिया अत्याचार का कहर जारी है। महिलाओं तथा निरीह बच्चों को बेरहमी के साथ पीटा जा रहा है जबकि जांच करने गयी टीम ने भी माना है कि स्थानीय प्रशासन में लापरवाही, चूक और विकास कार्यों में की गयी धोखाघड़ी के कारण स्थानीय लोगों का आक्रोश देखने को मिला। इसमें कुछ एक लोगों ने ही जदयू के स्थानीय नेताओं व जनप्रतिनिधियों के इशारे पर इस तरह के कार्यों में लिप्त पाये गये लोग खुलेआम घूम रहे हैं। जबकि बेकसूर लोगों को प्रताडि़त किया जा रहा है और जेल भेजा जा रहा है। 

नेताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बिना किसी राजनीतिक दुर्भावना से इस मामले में लिप्त चाहे उनके पार्टी के हों या फिर भाजपा समेत दूसरे किसी दल के। सभी को सामने लाकर के बिहार की जनता के सामने सच्चाई से रूबरू करानी चाहिए। शासन और प्रशासन में वो ताकत है कि वह सच्चाई को सामने ला सकती है, लेकिन इससे किसी राजनीतिक दुर्भावना की नहीं आनी चाहिए। नीतीश जी को समझना चाहिए कि सात निश्चय बिना संकल्प के जमीन पर नहीं उतर सकता है। सात निश्चय में जो लूट जारी हैइससे स्पष्ट होता है कि राज्य सरकार में संकल्प की कमी है।