विशेष राज्‍य के दर्जे की मांग को जाप(लो) बनाएगी जन आंदोलन: पप्‍पू यादव

 वॉल राइटिंगनुक्‍कड़ सभा और जनसंपर्क के माध्‍यम से होगा जनसंपर्क

सांसद ने लोकसभा में बिहार के बंटवारे का किया था विरोध

चुनाव वर्ष में सत्‍तारूढ़ दल विशेष दर्जे की मांग को लेकर कर रहे हैं राजनीति

भाजपा के साथ गठबंधन से नीतीश की छवि हुई बर्बाद

पटना। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने कहा है कि बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा दिलाने के लिए पार्टी गांव-गांव तक जन-जागरूकता अभियान चलाएगी। इस दौरान पार्टी के कार्यकर्ता वॉल राइटिंगनुक्‍कड़ सभा और जनसंपर्क के माध्‍यम से विशेष राज्‍य के दर्जे की मांग को जन आंदोलन बनाएंगे। बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा और विशेष पैकेज की मांग के लिए आज पटना के गर्दनीबाग में जन अधिकार पार्टी (लो) की ओर आयोजित विशाल धरना को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि गांधीलोहिया और जेपी के नाम पर राजनीति करने वालों ने बिहार को कबिलाई शासन के दौर में पहुंचा दिया है। इस राज्‍य में कोई सुरक्षित नहीं है।

pappu yadav mahadharna

श्री यादव ने कहा कि विशेष राज्‍य का दर्जा और शिक्षास्‍वास्‍थ्‍य और आधारभूत संरचनाओं को सुदृढ करने के लिए विशेष पैकेज की मांग को लेकर पार्टी गांव-गांव तक संघर्ष करेगी। इसके लिए पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता वॉल राइटिंगनुक्‍कड़ नाटक और जनसंपर्क के माध्‍यम से विशेष राज्‍य का दर्जा और विशेष पैकेज के लिए पार्टी के प्रयासों से लोगों अवगत कराएं और इसके लिए जनसमर्थन तैयार करें। विशेष राज्‍य का दर्जा और विशेष पैकेज बिहार का हक है, जो उसे हर हाल में मिलना चाहिए।

श्री यादव ने कहा कि जब बिहार के बंटवारे का प्रस्‍ताव लोकसभा में आया था तो निर्दलीय सांसद के रूप में उन्‍होंने इसका विरोध किया था। बंटवारे के बाद बिहार के लिए विशेष पैकेज की मांग की थी। लेकिन आज तक कोई प्रयास नहीं किया गया। आज चुनाव सिर पर है तो फिर सत्‍तारूढ़ पार्टियों द्वारा विशेष राज्‍य के दर्जे की मांग उठायी जा रही है। उन्‍होंने कहा कि पटना विश्‍वविद्यालय के शताब्‍दी समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की मांग को सिरे से खारिज कर दिया था। वैसे में सत्‍तारूढ़ दल द्वारा विशेष राज्‍य की मांग छलावा ही है। वरना जब केंद्र में और राज्‍य में एक जैसी सरकारें हैं, तो दिक्‍कत कहां है।

pappu yadav maha dharna

श्री यादव ने कहा कि बिहार के विकास की चिंता किसी को नहीं है। सभी पार्टियां चुनाव को लेकर सीटों के बंटवारे की राजनीति कर रही हैं। राजनीति की जमीन तैयार कर रही हैं। 2019 की तैयारी कर रही हैं। इसके लिए सामाजिक सौहाद्र बिगाड़ने का प्रयास भी किया जा रहा है। नीतीश के साथ भाजपा के गठबंधन ने नीतीश की गरिमा और राजनीतिक छवि को बर्बाद कर दिया है। सुशील मोदी विकास का विधवा विलाप कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि बिहार में राजनेताअपराधी और अधिकारियों के संरक्षण में बालू का अवैध कारोबार हो रहा है। बालू के अवैध कारोबार में आम आदमी खुद को असुरक्षित महसूस कर रहा है।

धरना की अध्‍यक्षता नवल‍ किशोर यादव ने कीजबकि संचालन अवधेश कुमार लालू ने किया। धरना को रघुपति प्रसाद सिंहएजाज अहमदराघवेंद्र सिंह कुशवाहाप्रेमंचद सिंहराजेश रंजन पप्‍पूअकबर अली परवेजगौतम आनंदनागेंद्र त्‍यागीविकास बॉक्‍सरअनिल यादवजेपी यादवअरुण सिंहनिरंजन यादवराजीव कुसुमबेसलाल यादव व रजनीश तिवारी आदि ने संबोधित किया।