राज्यपाल का पद अब समाप्त हो : जाप(लो)

 जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता राघवेंद्र सिंह कुशवाहा ने कहा कि भाजपा ने जिस तरह का गंदा खेल खेली और अंततः उसकी भद पिट गई जिससे राज्यपाल के पद की प्रासंगिकता ही समाप्त हो चुकी है । संविधान का माखौल उराने वाली भाजपा को सुप्रीम कोर्ट की सक्रियता की वजह से खरीद फरोख्त करने का मौका नहीं मिला । इस बार भाजपा को जबरदस्त मुंह की खानी पड़ी ।

pappu yadav raghevendra singh kushwaha


श्री कुशवाहा ने कहा कि जिस तरह से राज्यपाल हमेशा केंद्र सरकार की कठपुतली बनकर संविधान का मजाक उड़ाते रहते हैं उससे स्पष्ट हो चुका है कि  अब इस पद की कोई गरिमा नहीं बची है । अब राजभवन के ऊपर होने वाले बेतहाशा खर्च राज्यों की जनता के ऊपर अनावश्यक बोझ लगता है । हमारी पार्टी संविधान हित और जनहित को ध्यान में रखकर अब राज्यपाल के पद को भारतीय संविधान से विलोपित करने पर बहस चलाना चाहती है।