पीएमसीएच में जेनेरिक दवा नहीं मिलने से सांसद पप्‍पू यादव नाराज, कहा – बंद हो ऐसे दुकान

 सांसद ने आपका सेवक आपके द्वार कार्यक्रम के तहत सुनी फरियाद

 

 

पटना। राज्‍य के प्रतिष्ठित पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्‍पीटल (पीएमसीएच) में जेनेरिक मेडिकल स्‍टोर पर जेनेरिक दवाओं के नहीं मिलने पर जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने फोन कर पीएमसीएच अधीक्षक से अपनी नाराजगी जताई और ऐसे दुकानों पर कार्रवाई करते हुए अविलंब बंद करने की मांग की। वहीं दुकानदारों ने डॉक्‍टरों पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि डॉक्‍टर जेनेरिक दवाएं नहीं लिखते, जिसकी शिकायत उन्‍होंने बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री श्री मंगल पांडेय से की।

सांसद श्री यादव अपने कार्यक्रम आपका सेवक, आपके द्वार के तहत आज पीएमसीएच में थे। इस दौरान मरीजों की शिकायत पर उन्‍होंने दवा दुकानों का जायजा लिया, जहां दुकानदारों द्वारा भारी गड़बड़ी समाने आई। इससे नाराज सांसद ने दवा दुकानदारों द्वारा कच्‍चा चिट्ठा देने पर भी सवाल उठाये और कहा कि बिना बिल - रसीद के दवा बेचने वाले  दुकानदारों पर भी कार्रवाई की जाये।

 

madhepura mp pappu yadav

 

वहीं, सांसद ने पीएमसीएच में मरीजों और उनके परिजनों से मुलाकात की और उनकी समस्‍याओं को लेकर विमर्श किया। साथ ही जन अधिकार पार्टी द्वारा कई मरीजों को आर्थिक मदद भी की गई। कार्यक्रम के दौरान मरीज के परिजनों ने अस्‍पताल की कई अनियमितता और अराजकता की शिकायत भी कीजिसे अस्‍पताल प्रशासन द्वारा जल्‍द ठीक करने की बात कही गई। बाद में सांसद ने पत्रकारों से कहा कि राज्‍य में स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था एकदम बदहाल हो गयी। सरकारी अस्‍पतालों में न डॉक्‍टर हैं और न दवा है। ये दुर्भाग्‍य की बात है कि पीएमसीएच में जे‍नरिक दवा भी नहीं है और दुकानदार कहते हैं कि डॉक्‍टर दवा ही नहीं लिखते हैं।

श्री यादव ने कहा कि डॉक्‍टरपैथोलॉजीजांचघर और एंबुलेंस वाले मिलकर मरीजों को लूट रहे हैं। उनका आर्थिक दोहन कर रहे हैं। डॉक्‍टर पैथोलॉजी और जांचघरों से कमिशन भी वसूल रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि सरकार को गरीब मरीजों के लिए विशेष व्‍यवस्‍था करनी चाहिए। निजी अस्‍पतालों में भी गरीब मरीजों को मिलने वाली सुविधाएं दी जानी चाहिए।  इस दौरान जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्‍ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंहराजेश रंजन पप्‍पूअवधेश लालू,विशाल कुमार, गौतम आनंद, आज़ाद चांद आदि लोग उपस्थित थे।