सांसद पप्‍पू यादव ने दलित परिवारों के लिए लांच किया शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड

 

pappu yadav

 

कार्डधारी को पार्टी की ओर से दी जाएगी आर्थिक मदद

पटना। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ

पप्‍पू यादव ने बाबा साहेब भीमराव अंबेदकर की जयंती के मौके पर दलित

परिवारों के लिए शिक्षा कार्ड और स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड लांच किया। पार्टी ने डॉ

अंबेदकर की 127वीं जयंती को शिक्षासम्‍मान और निर्माण दिवस के रूप

में मनाया। इस मौके पर लोहानीपुर के अंबदेकर पार्क में पार्टी की ओर से

आयोजित जयंती समारोह में सांसद श्री यादव ने कहा कि शिक्षा कार्डधारी

दलित छात्र को प्रतिमाह 1500 रुपये की आर्थिक मदद पार्टी की ओर से

की जाएगी,जबकि स्‍वास्‍थ्‍य कार्डधारी दलित व्‍यक्ति को इलाज व दवा की

रसीद के आधार पर प्रति व्‍यक्ति 1500 रुपये की मदद पार्टी की ओर से

की जाएगी।

उन्‍होंने कहा कि कि दलितों में बेहतर शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य सुविधा उपलब्‍ध

कराने के लिए पार्टी अभियान चला रही है। इसी सिलसिले में पार्टी ने

स्‍वास्‍थ्‍य और शिक्षा कार्ड जारी किया है। उन्‍होंने कार्डधारी व्‍यक्ति को पार्टी

की ओर से शिक्षण कार्य और स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं के लिए अनुदान दिया

जाएगा। श्री यादव ने दलित छात्रों और अभिभावकों से इस सुविधा का लाभ

उठाने की अपील भी की। उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी दलित परिवारों को

बेहतरगुणवतापूर्ण व विश्‍वसनीय शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य सेवा उपलब्‍ध कराने

के लिए प्रतिबद्ध है।

******************************************************************************************************

दलितों के संवैधानिक अधिकारों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है जापलो : पप्‍पू यादव

जन अधिकार पार्टी (लो) और भीम आर्मी ने निकाला अंबदेकर न्‍याय मार्च

 

पटना। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने कहा कि दलितों के संवैधानिक अधिकारों पर हमले का पार्टी विरोध करेगी। संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेदकर की जयंती के मौके पर जन अधिकार पार्टी (लो) और भीम आर्मी के तत्‍वावधान में आयोजितअंबेदकर न्‍याय मार्च’ को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि देश भर में दलितों के खिलाफ उत्‍पीड़न की घटनाएं बढ़ रही हैं। दलितों के अधिकारों में कटौती की कोशिश की जा रही है। श्री यादव ने कहा कि दलितों के संवैधानिक अधिकारों पर हमला किया जा रहा है। जन अधिकार पार्टी (लो) ऐसी किसी भी कोशिश का विरोध करेगी।

pappu yadav

 

उल्‍लेखनीय है कि अंबदेकर न्‍याय मार्च अशोक राजपथ स्थित अंबेदकर छात्रावास से शुरू होकर पटना हाईकोर्ट स्थित डॉ. अंबेदकर की प्रतिमा पर माल्‍यार्पण के साथ संपन्‍न हुआ। इसमें जन अधिकार पार्टी (लो) और भीम आर्मी के सैकडों कार्यकर्ता शामिल हुए। इस दौरान मोटर साइकिल जुलूस और पैदल मार्च का भी आयोजन किया गया। बाद में पत्रकारों को संबोधित सांसद श्री यादव ने कहा कि जन अधिकार पार्टी (लो) दलितों अधिकारों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। अंबेदकर न्‍याय मार्च के माध्‍यम से पार्टी ने दलितों के अधिकारों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जतायी है। उन्‍होंने कहा कि न्‍याय मार्च में शामिल युवाओं ने भी अपने हक के लिए लड़ने का संकल्‍प लिया और संवैधानिक अधिकारों पर हमले की कोशिश के खिलाफ आवाज बुलंद की।

सांसद ने कहा कि आज देश के समक्ष संवैधानिक संकट उत्‍पन्‍न हो गया है। सरकार को दलितों के अधिकारों की रक्षा के लिए अध्‍यादेश लाना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य में भी दलित उत्‍पीड़न की घटनाओं में इजाफा हो रहा है। अपराधी बेकाबू होते जा रहे हैं। आम आदमी असुरक्षित महसूस कर रहा है। अंबेदकर न्‍याय मार्च में राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष रघुपति प्रसाद सिंह, राष्‍ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद, राष्‍ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंह, राजेश रंजन पप्‍पू, छात्र परिषद के प्रदेश उपाध्‍यक्ष विकास बॉक्‍सर, सोनू राम, राजेश पासवान, पंकज पासवान, रोहन यादव, पुरूषोत्तम, शशांक कुमार मोनू, निरंजन कुमार यादवदिलीप कुमारमनोज कुमार आदि मौजूद थे।