मधेपुरा में केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग की सांसद पप्‍पू यादव ने

  मधेपुरा में केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग की सांसद पप्‍पू यादव ने

प्रकाश जावड़ेकर ने दिया सकारात्‍मक निर्णय का भरोसा

पटना। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने केंद्र सरकार से मधेपुरा में केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग की है। उन्‍होंने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से मुलाकात कर इस संबंध में एक ज्ञापन सौंपा और कोसी की भावनाओं से उन्‍हें अवगत कराया।

pappu yadav

 

श्री जावड़ेकर से मुलाकात के बाद पत्रकारों से चर्चा में सांसद श्री यादव ने कहा कि सभी को अच्‍छीसस्‍ती और समान शिक्षा उपलब्‍ध कराने के लिए देश के सभी जिला मुख्‍यालयों में केंद्रीय विद्यालय खोलने का प्रावधान है। लेकिन आजादी के 70 साल बाद भी मधेपुरा में अभी तक कोई केंद्रीय विद्यालय की स्‍थापना नहीं हो पायी है। उन्‍होंने कहा कि मधेपुरा में 20 हजार करोड़ रुपये की लागत से रेलइंजन कारखाना की शुरुआत की गयी है। स्‍लीपर कारखाना भी मौजूद हैं। इसमें ह‍जारों कर्मचारी कार्यरत हैंजिनके बच्‍चों को पढ़ने के लिए बेहतर स्‍कूल नहीं है।

श्री यादव ने कहा कि केंद्रीय कर्मचारियों के बच्‍चों के साथ विश्‍वविद्यालय में कार्यरत कर्मचारियों के बच्‍चों की बेहतर और गुणवत्‍तापूर्ण शिक्षा के लिए मधेपुरा में केंद्रीय विद्यालय का स्‍थापना किया जाना जरूरी है। सांसद ने कहा कि मुलाकात के दौरान केंद्रीय मंत्री श्री जावड़ेकर ने कोसी की जरूरतों को गंभीरता से सुना और सकारात्‍मक निर्णय का भरोसा भी दिलाया। सांसद ने कहा कि बिहार सरकर की शिक्षा व्‍यवस्‍था बदहाल है और इन स्‍कूलों में बेहतर शिक्षा की उम्‍मीद नहीं की जा सकती है। सरकारी स्‍कूलों के भवन खड़े कर दिये गये हैंलेकिन शिक्षा गायब हो गयी है। शिक्षक नदारद हैं। इसका खामियाजा भी बिहार के छात्रों को भुगतना पड़ रहा है।