छात्र संघ चुनाव घोषित करने की मांग को लेकर छात्रों ने फूंका मगध विश्‍वविद्यालय के कुलपति का पुतल

 

jan adhikar party student union

छात्र संघ चुनाव घोषित करने की मांग को लेकर छात्रों ने फूंका मगध विश्‍वविद्यालय के कुलपति का पुतला

पटना, 6 फरवरी : मगध विश्‍वविद्यालय में छात्र संघ का चुनाव कराने की मांग को लेकर आज जन अधिकार छात्र परिषद ने संघ के उपाध्‍यक्ष विकास बॉक्‍सर सैकड़ों छात्रों के साथ विश्‍वविद्यालय की पटना शाखा के मुख्‍य द्वार पर कुलपति कमर अहसन का पुतला फूंका। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि आज बिहार के सभी विश्‍वविद्यालय में छात्र संघ के चुनाव की घोषणा हो चुकी है, मगर मगध विश्‍वविद्यालय प्रशासन ने इस पर मौन साध रखा है। यह साफ तौर पर 28 फरवरी से पहले छात्र संघ का चुनाव करने के महामहिम राज्‍यपाल के निर्देश उल्‍लंघन है।

विकास ने राज्‍य सरकार की मंशा पर संदेह जताते हुए कहा कि आखिर मगध विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव क्यों नहीं हो रहा है ? इस विवि में युवाओं के नेतृत्व की उपेक्षा क्‍यों हो रही है? कहीं इसके पीछे सरकार की गिरती छवि और घटता जनाधार तो नहीं ? उन्‍होंने कुलपति की मंशा पर भी सवाल खड़े किये और खुली चुनौती देते हुए कहा कि छात्र संघ नहीं तो कुलपति नहीं। क्‍योंकि ये नहीं चाहते कि कोई गरीबकिसानमजदूर का बच्चा नेता बने और अपने हक़ व अधिकारों के लिए लड़े। अपने अधिकारों के लिए विवि में आवाज बुलंद करे। इसलिए कुलपति और उनके गुर्गे भ्रामक और बेबुनियाद प्रचार बंद करें। 

इसके अलावा जन अधिकार छात्र परिषद के मगध विवि के पटना इकाई के अध्‍यक्ष आकाश सिंह ने कहा कि मगध विवि के तमाम बड़े कॉलेजों में करोड़ों रूपये का घोटाला सामने आया है। कभी बिल्डिंग मरम्मत के नाम पर, स्पोर्ट्स के नाम पर, वाईफाई और कैंटीन के नाम पर, मगर उसका रिपोर्ट अब तक विवि प्रशासन ने सार्वजानिक नहीं किया है। क्‍योंकि विवि में जितने भी घोटाले हुए हैं, उनमें कुलपति की भी संलिप्‍ता रही है। उन्‍होंने कुलपति को आगाह करते हुए कहा कि विवि में या जो छात्र संघ चुनाव की घोषणा जल्‍द हो वर्ना जन अधिकार छात्र परिषद, पटना के किसी भी कॉलेज में कूलपति को घुसने नहीं देंगे। पुतला दहन में  प्रदेश उपाध्यक्ष विकाश बॉक्सरमगध इकाई अध्यक्ष आकाश सिंह के अलावा प्रदेश प्रवक्‍ता सागर, उपाध्यक्ष अलोक आनंदमहासचिव अंकित सिंहशुभम सिंहअर्षि मलिक, रोहन कुमार, रविराहुलरोशन कुमारसूरज कुमारसोनूप्रभात कुमारविशालदीपकऔर छात्र परिषद के सैकड़ों छात्र शामिल थे।