उदयन हॉस्‍पीटल (Udyan Hospital) के मालिक अजय आलोक से मिले पप्‍पू यादव (Pappu Yadav), की मरीजों की मदद

 

 

सांसद पप्‍पू यादव (Pappu Yadav) ने आज उदयन हॉस्‍पीटल के मालिक डॉ अजय आलोक के विशेष आग्रह पर उनसे मुलाकात की और उनके अस्‍पताल में भर्ती मरीज राधिका देवी को 25,000 रूपए की आर्थिक मदद की। डॉ अजय आलोक जदयू के प्रवक्‍ता भी हैं। सांसद के डॉ अजय आलोक से बातचीत के क्रम में ये बात सामने आई कि उदयन हॉस्‍पीटल के पास न तो पॉल्‍यूशन सर्टिफिकेट है और न डस्‍टविन सर्टिफिकेट। इस पर उन्‍होंने अजय आलोक से आग्रह की कि वे जब तक सर्टिफिकेट न बनवा लें, तब तक वे एक अच्‍छे आदमी की तरह अस्‍पताल बंद कर दें।

सांसद ने पॉल्‍यूशन सर्टिफिकेट के सवाल पर भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी को भी घेरा और कहा कि सुशील मोदी ने पर्यावरण के इश्‍यू पर लालू यादव के मॉल पर तो रोक लगा दी, मगर बिना पॉल्‍यूशन सर्टिफिकेट के चल रहे ऐसे संस्‍थानों पर वे क्‍यों नहीं बोलते हैं। गौरतलब है कि पिछले दिनों जदयू प्रवक्‍ता के हॉस्पीटल में भर्ती राधिका देवी को लेकर पिछले दो दिनों से पप्‍पू यादव और अजय आलोक के बीच तीखा वार चल रहा था। बात अजय आलोक के बिहार बंद’ से जुड़े ट्वीट से शुरु हुई थी। अपने पहले ट्वीट के बाद से ही अजय आलोक जवाब वाले ट्वीट में पप्‍पू यादव को भैया’ कह संबोधित करने लगे थे। उन्‍होंने पप्‍पू से अस्‍पताल आकर राधिका देवी को देखने और मदद करने की अपील भी की थी।

 आज हॉस्‍पीटल पहुंचे पप्‍पू यादव ने मरीज की आर्थिक मदद तो की है, साथ ही ये भी कहा कि एक सत्तारूढ़ दल के प्रतिनिधि होने के नाते अजय आलोक को मरीज की इलाज फ्री में भी करा देनी थी। लेकिन उन्‍होंने मदद के लिए मुझे याद किया। इससे पता चलता है कि सरकार आम जनता के लिए कितनी तत्‍पर है। उन्‍होंने हॉस्‍पीटल की सुरक्षा में बाउंसर पर भी सवाल खड़े किये और कहा कि वे दस बाउंसर को हॉस्‍पीटल के गेट पर खड़ा कर सकते हैं, मगर एक जरूरतमंद गरीब की मदद नहीं कर सकते हैं।