लोकसभा में शून्य काल के दौरान बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाये जाने हेतु चर्चा किए |

 श्री राजेश रंजन (मधेपुरा):

माननीय सभापति जी, बिहार और केंद्र में अब भाजपा की सरकार है| दोनों सरकार के नेता श्री नरेंद्र मोदी जी हैं| इन्होंने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की बात कही थी| मैं उम्मीद करता हूँ कि अब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा|

इसके साथ ही, बिहार को दो एम्स देने की बात थी | पहले उसके लिए ज़मीन नहीं दी गई थी | अब कोसी या सीमांचल में एम्स दिया जाय | बिहार में राजगीर और बोधगया के विकास करने की बात है, वहाँ जो इंफ्रास्ट्रक्चर है, चूँकि दोनों जगह बीजेपी  की सरकार है, यदि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाए, तो बिहार डेवलप करेगा | बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी चाहते है कि बिहार का विकास हो | इसलिए में उम्मीद करता हूँ कि अब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देकर उसे आगे बढ़ाने की कृपा की जाए |

 

मेरी यह भी मांग है कि बिहार के कोसी और सीमांचल को विशेष पैकेज दिया जाए ताकि ये क्षेत्र आगे बढ़ सकें |