छेड़खानी के आरोपी प्राचार्य की गिरफ्तारी को जन अधिकार छात्र परिषद ने आंदोलन किया तेज

 

पटना। जन अधिकार छात्र परिषद ने छेड़खानी के आरोपी कॉलेज ऑफ कॉमर्स के प्राचार्य बबन सिंह के खिलाफ आंदोलन तेज कर दिया है। छात्र परिषद के प्रदेश उपाध्‍यक्ष विकास बॉक्‍सर और प्रवक्‍ता सागर के नेतृत्‍व में सैकड़ों की संख्‍या में छात्रों ने उग्र प्रदर्शन किया और कॉलेज में तालाबंदी की। इस दौरान कॉलेज के प्रॉक्‍टर मनोज 3 ने प्रदर्शनकारी को धमकाते हुए प्राचार्य बबन सिंह के खिलाफ प्रदर्शन करने पर झूठे एफआईआर में फंसाने की धमकी दी। बाद में प्रॉक्‍टर की शिकयात पर पुलिस ने विकास बॉक्‍सर, प्रभात कुमार, अमित पाठक, सागर उपाध्‍याय, रौशन यादव, अंकित कुमार सहित सैकड़ों छात्रों को हिरासत में ले कर जेल भेज दिया।

इससे पहले प्रदर्शनकारियों छात्रों को संबोधित करते हुए विकास बॉक्‍सर ने कहा कि बबन सिंह के इशारों पर सत्ताधारी दल के बड़े नेताओं द्वारा हमें और हमारे छात्र परिषद के साथियों को धमकाया जा रहा है। बबन सिंह का विरोध करने पर झूठे मुकदमे में फंसाने का भी डर दिखाया जा रहा है। लेकिन चाहे कुछ भी हो जाए, हमारे साथी डरने वाले नहीं हैं। अगर हम पर और हमारे प्रदर्शनकारी छात्रों के साथ कुछ अनहोनी होगी तो, उसके जिम्‍मेवार प्रॉक्‍टर मनोज 3 और आरोपी प्राचार्य बबन सिंह होंगे।

उन्‍होंने कहा कि अगर जल्‍द से जल्‍द आरोपी प्राचार्य को जेल नहीं भेजा गया तो जन अधिकार छात्र परिषद आगामी चार अगस्‍त को राजभवन मार्च करेगी। प्रदर्शन के दौरान विकास बॉक्‍सर के अलावा, सागर, प्रभात कुमार, अमित पाठक, सागर उपाध्‍याय, रौशन यादव, अंकित कुमार, छोटू कुमार, विवेक, बृजेश सत्‍या, अंकिता, पूजा, ईशु, सोनाली, अदीति सहित सैकड़ों छात्र – छात्राएं शामिल हुई।